Categories

Posts

भारतीय इतिहास के साथ बलात्कार

भारतीय इतिहास के साथ बलात्कार
डॉ विवेक आर्य
हमारी आज की हिन्दू युवा पीढ़ी को पढ़ाया जाता है कि महान गोरी और महान गजनी ने हमारे देश पर हमला किया था। अकबर और टीपू सुल्तान सेक्युलर शासक थे। औरंगज़ेब जिन्दा पीर था। ख्वाजा या गरीब नवाज़ हिंदुओं के लिए पूज्य है। जबकि सत्य विपरीत है।
1- मैं क्यों भूला उस काम पिपासु अलाउद्दिन को, जिससे अपने सतित्तव को बचाने के लिये रानी पद्ममिनी ने 14000 स्त्रियो के साथ जलते हुए अग्निकुंड में कूद गयी थीं।
———————————————
2- मैं क्यों भूला उस जालिम औरंगजेब को, जिसने संभाजी महाराज को इस्लाम स्वीकारने से मना करने पर तडपा तडपा कर मारा था।
———————————————
3- मैं क्यों भूला उस जिहादी टीपु सुल्तान को, जिसने मालाबार में एक एक दिन में लाखो हिंदुओ का नरसंहार किया था।
———————————————
4- मैं क्यों भूला उस जल्लाद शाहजहाँ को, जिसने 14 वर्ष की एक ब्राह्मण बालिका के साथ अपने महल में जबरन बलात्कार किया था।
———————————————
5- मैं क्यों भूला उस बर्बर बाबर को, जिसने मेरे श्री राम प्रभु का मंदिर तोडा और लाखों निर्दोष हिंदुओ का कत्ल किया था।
———————————————
6- मैं क्यों भूला उस शैतान सिकन्दर लोदी को, जिसने नगरकोट के ज्वालामुखि मंदिर की माँ दुर्गा की मूर्ति के टुकडे कर उन्हे कसाइयो को मांस तोलने के लिये दे दिया था।
———————————————
7- मैं क्यों भूला उस धूर्त ख्वाजा मोइन्निद्दिन चिस्ती को, जिसने पृथ्वीराज को हराने के लिए मुहम्मदी गोरी का साथ दिया था।
———————————————
8- मैं क्यों भूला उस निर्दयी बजीर खान को, जिसने गुरू गोविंद सिंह के दोनो मासूम फतेह सिंग और जोरावार को मात्र 7 साल और 5 बर्ष की उम्र में इस्लाम ना मानने पर दीवार में जिन्दा चुनवा दिया था।
———————————————
9- मैं क्यों भूला उस जिहादी बजीर खान को, जिसने बन्दा बैरागी की चमडी को गर्म लोहे की सलाखो से तब तक जलाया जब तक उसकी हड्डियां ना दिखने लगी मगर उस बन्दा वैरागी ने इस्लाम स्वीकार नही किया
———————————————
10- मैं क्यों भूला उस कसाई औरंगजेब को, जिसने पहले संभाजी महाराज की आँखों मे गरम लोहे के सलिए घुसाए, बाद मे उन्हीं गरम सलियों से पुरे शरीर की चमडी उधेडी, फिर भी संभाजी ने हिंदू धर्म नही छोड़ा था।
———————————————
11- मैं क्यों भूला उस नापाक अकबर को, जिसने पहले हेमू और फिर उनके 72 वर्षीय स्वाभिमानी बुजुर्ग पिता के इस्लाम कबूल ना करने पर उसके सिर को धड़ से अलग करवा दिया था।
———————————————
12- मैं क्यों भूला उस वहशी दरिंदे औरंगजेब को, जिसने धर्मवीर भाई मतिदास के इस्लाम कबूल न करने पर बीच चौराहे पर आरे से चिरवा दिया था।
———————————————
भारतीय इतिहास के साथ बलात्कार करने वाले और सत्य को छुपाने वाले साम्यवादी, कम्युनिस्ट, सेक्युलर एवं मुस्लिम इतिहासकारों के सुनियोजित षड़यंत्र ने हिंदुओं को सेक्युलरता का अलाप करने वाली हिजड़ी कौम बना दिया। आईये सत्य इतिहास से परिचित कर युवाओं को हिन्दू संगठन के लिए प्रेरित करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)