Categories

Posts

महर्षि दयानन्द के सत्यार्थ प्रकाश आदि ग्रन्थ आध्यात्मिक व सामाजिक

महर्षि दयानन्द सरस्वती ने सच्चे शिव की खोज में 18 वर्ष की अवस्था में अपने घर व परिवार का परित्याग किया। घर पर रहकर वह अपना उद्देश्य पूरा नहीं कर…

चैराहे पर खड़े होकर बेचे ‘‘सत्यार्थ प्रकाश’’

महर्षि दयानन्द सरस्वतीकृत अमर ग्रन्थ ‘‘सत्यार्थ प्रकाश’’ कोटा महानगर के भीड़ भरे चैराहे चैपाटी बाजार में आर्य समाज जिला सभा कोटा के पदाधिकारियों ने 500 पृष्ठों का 50 रु. कीमत…